सिर्फ ये एक चीज आप के शरीर के सारे मस्से (Warts) हटा सकता है

हम सभी यही चाहते हैं की हमारा चेहरा बिलकुल चाँद की तरह चमकता रहे उसमे किसी  भी तरह का दाग ना आये लेकिन अक्सर हमारे चेहरे पर तिल और मस्से दाग जैसे दीखते है जिनमे किसी भी प्रकार का दर्द तो नहीं होता लेकिन ये हमारे चेहरे की सुन्दरता को बिगाड़ जरूर देते हैं और मस्से अगर गर्दन के पीछे  हैं तब तो की चिंता का विषय नहीं है क्योंकि वहाँ पर सबकी नजर नहीं जाती है लेकिन कई बार मस्से हमारे चेहरे के ऐसी जगह पर होते हैं  जो की दूर से ही दूसरों को आसानी से दिख जाते हैं।

ये मस्से दिखने में बिलकुल भी अच्छे नहीं लगते और अगर इनका सही से उपचार ना किया जाये तो  कई बार ये मस्से, कैंसर का रुप भी धारण कर लेते हैं जो हमारे लिए जानलेवा साबित हो सकते हैं इसीलिए ऐसी स्थिति आप पैदा ही ना होने दे और वक्त रहते ही  इन मस्सों को अपने शरीर से हटा दीजिए।

आज हम आपको मस्से हटाने के लिए एक घरेलू उपाय बताएँगे जिसके प्रयोग से आप आसानी से पाने चेहरे से मस्सों को दूर कर सकते हैं वो भी बिना किसी साइड इफ़ेक्ट केहमारे शरीरपे मस्से दो तरह के होते हैं पहला जो हमारे शरीर पे जन्म से ही होता है और वहीँ दूसरा जो जन्म के बाद कुछ समय बीतने के बाद अचानक से ही हमारे शरीर पे हो जाता है तो हम आपको बता दे की जो मस्सा आपको जन्म के समय से ही है तो ये अहानिकारक है। लेकिन जो मस्से जन्म के बाद हुए हैं या बड़े होने पर हुए हैं तो समय बीतने के साथ ये कैंसर का रूप धारण कर सकते हैं।एक और अहम बात यदि किसी इंसान को 30 की उम्र के बाद मस्से होते हैं तो फिर कैंसर के खतरे और भी बढ़ जाते हैं

इन स्थिति में ज्यादा खतरनाक है मस्से

हमारे शरीर के मस्से तब हानिकारक हो जाते है जब शरीर के किसी भी मस्से से खून निकले क्योंकि तब शरीर के ये  मस्सेऔर भी  हानिकारक हो जाते है इसे नजरअंदाज ना करें|
यदि आपको मस्सों में  खुजली हो रही है तो इस खुजली को भी हल्के में ना लें और इन
स्थितियों में एक बार चिकित्सक से जरूर मिलना चाहिए  क्योंकि वर्तमान में जब कैंसर  इतनी सामान्य बीमारी बन चुकी है तो चिकित्सक से मिलने में कोई बुराई नहीं है।

 

इस वजह से होता है मस्से

मस्सों का कारण पेपीलोमा नाम का वायरस है। त्वचा पर पेपीलोमा वायरस के कारण छोटे, खुरदुरे कठोर दाने उभर आते हैं जिसे मस्सा कहते हैं। पैदा होने के बाद होने वाले मस्सों का मुख्य कारण इंफैक्शन होता है। सामान्य तौर पर मस्से काले और भूरे रंग के होते हैं लेकिन कई बार ये त्वचा के ही रंग के ही होते हैं जिसके  कारण ये जल्दी दिखाई नहीं देते और इस कारण लोग इन्हें नजरंदाज कर देते हैं जो बाद में काफी हानिकारक हो जाती है । मस्से कुल 8 से 12 प्रकार के होते हैं। आप मस्सों को मेडीकल ट्रीटमेंट या कुछ घरेलू उपचारों द्वारा  हमेशा के लिए छुटकारा पा जा सकते है। लेकिन स्थिति गंभीर है तो  डॉक्टर को तुरंत दिखना चाहिए।

मस्सों को ना काटें, ना फोड़ें

अक्सर देखा जाता है की कुछ लोग मस्सों को खुद से काटने फोड़ने लगते हैं लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए क्योंकि  मस्से को काटने और फोड़ने के कारण मस्से के वायरस का शरीर के अन्य हिस्सों में फ़ैल  जाने का खतरा होता है। जिससे और भी अधिक मस्से हो जाते हैं। कई बार तो ऐसा भी होता है की  मस्से का वायरस एक आदमी से दूसरे आदमी की त्वचा तक भी  चला जाता है।

प्‍याज से दूर करें मस्से की समस्या

हम सभी जानते है की प्याज हर तरह से हमारे लिए फायदेमंद है। खाने से लेकर इसके रस को लगाने तक हमारे शरीर  के लिए काफी फायदेमंद है  और सबसे बड़ी बात की प्याज मस्से जैसी खतरनाक बीमारी के लिए रामबाण हैं यदि आप चाहते है की आप मस्सों की समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा पा सकें तो इसके लिए आपको लगातर बीस से तीस दिनों तक प्याज के रस को मस्सों पर लगाना है और जब भी आपको समय मिले तब प्याज को काटकर अपने मस्सों पर रगड़ें यदि आप एक दिन में  दो-तीन बार इस तरह से प्याज को मस्सों पर लगायेंगे तो इससे मस्सों का वायरस मर जाते है जिसके वजह आपकी मस्सों की समस्या जड़ से खत्म हो जाएगी

 

Loading...