यदि आपने भी रखा हैं सावन सोमवार का व्रत तो भूलकर भी ना करे ये गलतियाँ, रूठ सकते हैं भोलेनाथ

दोस्तों सावन का महिना शुरू हो चूका हैं. इस महीने में वातावरण में शिव भक्ति की महक विद्यमान रहती हैं. सावन का महिना शिवजी और उनके भक्तों के लिए बेहद ख़ास होता हैं. इस महीने में हर कोई शिव की भक्ति में लीन दिखाई देता हैं. सभी मंदिरों में सावन सोमवार को विशेष सज्जा और श्रृंगार किया जाता हैं. रात में तो जगमग लाइटों से माहोल और भी खुशनुमा हो जाता हैं.

ऐसा कहा जाता हैं कि सावन महीने में जो व्यक्ति शिवजी को प्रसन्न करने में कामयाब हो गया उसकी चांदी ही चाँदी होती हैं. इस महीने में जिस व्यक्ति को शिवजी का आशीर्वाद मिल जाता हैं उसकी हर मनोकामना पूर्ण हो जाती हैं. वहीँ यदि कोई व्यक्ति किसी दुःख या परेशानी से घिरा हुआ हैं तो उसका समाधान भी शिवजी कर देते हैं. यही वजह हैं कि इस महीने में भक्तजनों की तादाद बहुत अधिक रहती हैं.

शिवजी को सावन के महीने में खुश करने के लिए लोग कई तरह की चीजें करते है. कोई नियमित मंदिर जाकर जल चढ़ाता हैं, कोई प्रसादी चढ़ाता हैं तो वहीँ कुछ लोग उपवास भी रखते हैं. सावन के माह में सबसे अधिक लोग उपवास रखते हैं. ऐसे में यदि आप ने भी उपवास रखा हैं तो आपको कुछ नियम कायदों का पालन करना चाहिए और गलतियाँ करने से बचना चाहिए. यदि आप उपवास रखने के साथ ये गलतियाँ कर देते हैं तो शिवजी आप से नाराज़ हो सकते हैं. तो चलिए जानते हैं कि सावन के महीने में उपवास रखते समय आपको कौन कौन सी गलतियाँ करने से बचना चाहिए.

सावन सोमवार का व्रत रखते समय ना करे ये गलतियाँ

1. सावन के महीने में बाल काटना वर्जित होता हैं. फिर वो सिर के बाल हो या दाढ़ी के. हालाँकि कुछ लोग इस नियम का पालन नहीं करते हैं. लेकिन यदि आप सावन सोमवार का व्रत रख रहे हैं और नियमित शिवजी के मंदिर जाकर पूजा पाठ भी कर रहे हैं तो आपको हर हाल में इस महीने बालों को काटने से बचना चाहिए. बालों के अतिरिक्त यही बात नाखुनो पर भी लागू होती हैं.

2. भोलेनाथ एक योग थे. उन्हें शान्ति पसंद थी. ऐसे में यदि आप सावन सोमवार का उपवास रख रहे हैं तो उस दिन किसी से भी लड़ाई झगड़ा करने या गाली गलोच देने से बचे. यदि आप ऐसा करते हैं तो आपकी भक्ति से शिवजी बिलकुल भी प्रसन्न नहीं होंगे उल्टा आपकी इस हरकत वे नाराज़ भी हो सकते हैं.

3. शिवजी को अपनी पत्नी पार्वती से भी बेहद प्रेम हैं. ऐसे में यदि कोई पुरुष सावन सोमवार का व्रत रखते हुए अपनी बीवी का अपमान करता हैं, उसका दिल दुखाता हैं या उसके साथ किसी प्रकार की हिंसा करता हैं तो शिवजी क्रोधित हो सकते हैं. ऐसे में आपको इस व्रत का फायदा होने की बजे नुकसान होने की संभावना हैं.

4. सावन के महीने में नॉन-वेज खाने से भी परहेज करना चाहिए. खासकर कि यदि आप व्रत रख रहे हैं तो इस पुरे महीने भूलकर भी नॉन-वेज ना खाए.

5. वैसे तो बड़े बुजुर्गों का अपमान करना हमेशा ही गलत होता हैं लेकिन सावन के महीने में किसी बुजुर्ग का दिल ना दुखाए वरना आप पाप के भागिदार हो सकते हैं.

Loading...