Shocking: कॉकरोच का दूध पीते हैं इस देश में रहने वाले लोग, जानिए कैसे होता हैं ये कारनाम

दोस्तों दूध एक ऐसी चीज हैं जी हमारी दैनिक दिनचर्या का सबसे अहम घटक होता हैं. जहाँ एक तरफ बच्चे सुबह उठते ही दूध के लिए रोने लगते हैं तो वहीँ दूसरी ओर बड़े लोग इस दूध की चाय बना के पीते हैं. इसके अलावा कई तरह के डेरी प्रोडक्ट जैसे छाछ, दही, पनीर, घी इत्यादि बनाने में भी दूध का इस्तेमाल किया जाता हैं. आपक दुनियां के किसी भी देश में चले जाए वहां आपको दूध मिल ही जाएगा.

दूध का उत्पादन करने के लिए हर जगह अलग अलग डेरी फ़ार्म होते हैं. दुनियांभर में अधिकतर लोग गाय, भैंस, बकरी का दूध पीते हैं. इसके आलवा कई जगहों पर सोया और मशीन के माध्यम से भी दूध का उत्पादन किया जाता हैं. लेकिन क्या होगा यदि हम आप से कहे कि दुनियां में एक देश ऐसा भी हैं जहाँ किसी जानवर का नहीं बल्कि कीड़े मकोड़ो का दूध निकाला जाता हैं. आपको ये बात सुनने में अजीब लग रही होगी. लेकिन इससे भी अजीब चीज ये हैं कि दूध निकालने के लिए ये लोग जिस कीड़े का इस्तेमाल करते हैं उसे देख हम में से कई लोगो को घीन आने लगेगी. दरअसल ये लोग यहाँ कॉकरोच का दूध निकालते हैं.

इस देश में निकला जाता हैं कॉकरोच का दूध

कॉकरोच जो हमारे खाने में गलती से आ जाए तो हम खाना छोड़ देते हैं. ऐसे में ऑस्ट्रेलियाई में रहने वाले लोग कॉकरोच का दूध निकाल कर पी रहे हैं. अब आप सोच रहे होंगे कि भला ऐसी भी दूध की क्या कमी आ गई जो ये लोग कॉकरोच का दूध पीने लगे. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कॉकरोच का दूध कि गाय, भैंस, बकरी के दूध की तरह ही काफी पोषक होता हैं. इसके अन्दर वे सारे तत्व होते हैं जो गाय, भैंस और बकरी के दूध के अन्दर होते हैं.

गाय के दूध से भी अधिक पोष्टिक होता हैं कॉकरोच का दूध

दरअसल यहाँ पर ”कॉकरोच क्रिस्टल’ में से दूध निकाला जाता है. ये क्रिस्टल आंत में पाए जाने वाले एक किट का ही अंग होते हैं. वैज्ञानिको की माने तो इस क्रिस्टल में एक सम्पूर्ण भोजन की तरह एसिड और प्रोटीन भरे होते हैं. इतना ही नहीं भारत के स्टेम सेल बायोलॉजी और रीजनरेटिव मेडिसिन संस्थान के रिसर्च करने वालो का दावा हैं कि कॉकरोच का दूध अन्य जानवरों के दूध की तुलना में ज्यादा पोष्टिक होता हैं. ये दूध गाय के दूध से ज्यादा अलग नहीं होता हैं.

100 ग्राम कॉकरोच का दूध तैयार करने में लगते हैं इतने कॉकरोच

आपको जान हैरानी होगी कि कॉकरोच के 100 ग्राम दूध को बनाने के लिए तक़रीबन 1,000 कॉकरोच की आवश्यकता होती हैं. तो अब आप समझ ही गए होंगे कि कॉकरोच से दूध निकालना भी बड़ी मेहनत का काम होता हैं.

हमें पूरा यकीन हैं कि आप में से कई लोगो को ये विचित्र जानकारी नहीं होगी. यदि आपको ये जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के लोगो के साथ भी शेयर जरूर करे. साथ ही हमें ये भी बताए कि क्या आप कॉकरोच का दूध पीना पसंद करेंगे?

Loading...