सावधान: अगर घर पे बना रहे हैं ओ आर एस का घोल तो जरूर रखें इस बात का ध्यान वर्ना बाद में पड़ सकता है पछताना

सबसे पहले आपको बता दें की आज विश्व ओ आर एस दिवस है. आप सबने भी अपनी लाइफ में कभी ना कभी तो ओ आर एस का घोल पिया ही होगा. आजकल बाजार में काफी सारे पाकेट में मिलने वाले ओ आर एस मौजूद है लेकिन ज्यादातर लोग ओ आर एस का घोल पर ही बनाते हैं. आज हम आपको घर पर इस घोल को बनाने के बारे में कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जिसे आप आज से पहले नहीं जाते होंगें, असल में ओ आर एस घोल को बनाते समय कुछ ख़ास तरह के सावधानियां बरतनी की जरुरत होती है. आईये जानते हैं की आखिर इस घोल को तैयार करने में आपको किस प्रकार की सावधानियां बरतने की जरुरत होती है.

बता दें की ओ आर एस का घोल असल में डिहाइड्रेशन को दूर करने के लिए पिया जाता है. ये शारीर में होने वाली पानी की कमी को दूर करने में काफी मददगार साबित होता है. ओ आर घोल पीने से बॉडी को एलेक्ट्रोल और पानी दोनों की जरुरत पूरी हो जाती है, बता दें की आपके शारीर में यदि पानी की कमी हो जाएँ तो आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है जैसे की उल्टी, दस्त आदि और यदि आप

इस दौरान ओ आर एस के घोल का सेवन करते हैं तो इससे आप कुछ ही देर के अंदर बॉडी में होने वाली पानी की कमी को पूरा कर सकते हैं. बड़े बुजुर्गों में डाईरिया होने पर जहाँ ओ आर एस का घोल किसी जादू की तरह काम करता है वहीं दूसरी तरफ छोटे बच्चों में दस्त की समस्या होने पर भी ओ आर एस का घोल काफी कारगर साबित होता है. बता दें की यदि आप ओ आर एस का घोल बाजार से खरीद कर इस्तेमाल करे हैं फिर तो आपको कोई दिक्कत नहीं लेकिन यदि आप ओ आर एस का घोल घर पर बनाते हैं तो इसके लिए आपको कुछ सावधानियां बरतने की विशेष रूप से जरुरत होती है.

आपको बता दें की ओ आर एस घोल बनाते समय हमेशा ही साफ़ पानी का इस्तेमाल करें और घोल बनाने के बाद इसे किसी साफ़ सुथरे बोतल या फिर बर्तन में ही निकाले. ध्यान रखें की यदि आप साफ़ पानी का इस्तेमाल नहीं करते हैं तो आपको ओ आर एस के घोल पीने से इन्फेक्शन भी हो सकता है इसलिए साफ़ सफाई का विशेष ध्यान रखें. ओ आर एस का घोल बनाने से पहले ये बेहद जरूरी है की आप सबसे पहले किसी मेडिकेटिड साबुन या हैण्डवाश से अपने हाथ धुल लें.

इसके आलवा ये घोल बनाते समय इस बात का भी विशेष ध्यान रखें की इसमें डाले जाने वाले सभी सामग्रियों की मात्रा भी बराबर होनी चाहिए. अगर आप बजार में मिलने वाले ओ आर एस के पैकेट से घोल बना रहे हैं तो इस बात का ख़ास ख्याल रखें की उसपर जो निर्देश लिखे हैं उसे जरूर फॉलो करें. एक बार ओ आर एस का घोल बनाने के बाद इस बात का ख़ास ध्यान रखें की वो दो घंटे के अंदर इस्तेमाल कर लिया जाए अगर ऐसे नहीं होता है तो दो घंटे के बाद फिर से ओ आर एस के घोल को बना लें.

Loading...