कही भी दिखे किन्नर तो बोल ये 2 जादूई शब्‍द, तुरंत ही बदल जाएगी किस्‍मत

हम सभी जानते हैं कि हमारे समाज में स्‍त्री पुरूष के अलावा एक और भी वर्ग होता है जिसे किन्‍नर कहा जाता है। लोग किन्‍नरों के लाइफस्‍टाइल व किन्‍नरों के बारे में हर एक बात जानने के लिए उत्‍सुक रहते हैं। वहीं आपको बता दें कि ये एक ऐसा विषय है जिसके बारे में लोग आज भी खुलकर बातें नहीं कर पाते हैं। यही कारण है कि इनके बारे में कई सारी बातें जानना चाहते हैं। घर में विवाह समारोह हो या बच्चे का जन्म इन शुभ अवसरों पर बधाई लेने आते हैं किन्नर। इनकी तालियां और बोलने-चलने का तरीके से कोई भी इन्हें पहचान लेता है कि ये किन्नर है। कई नाम होते हैं इनके हमारे यहां, किन्नर, हिजड़ा और न जाने क्या-क्या। समाज में इस समुदाय को थर्ड जेंडर, ट्रांस जेंडर जैसे नामों से जाना जाता है।

आम आदमी इनके पैसे मांगने का ज्यादा विरोध नही करता और चुपचाप निकाल कर दे देता हैं। ऐसा क्यों? बहुत से लोग ऐसा भी मानते है कि इनकी बद्दुआ नही लेनी चाहिए । माना जाता है कि किन्नरों की बद्दुआ लेने से लोग बचपन से लेकर बड़े होने तक दुखी ही रहते हैं ऐसे में दुखी दिल की दुआ और बद्दुआ लगना स्वाभाविक हैं।  किन्नरों की दुनिया जितनी अलग है, इनके रीति-रिवाज़ और संस्कार भी उतने ही अलग है। समाज में इस समुदाय को थर्ड जेंडर, ट्रांस जेंडर जैसे नामों से जाना जाता है। किन्नर समुदाय ख़ुद को मंगलमुखी मानते हैं, इसलिए ही ये लोग बस विवाह, जन्म समारोह जैसे मांगलिक कामों में ही भाग लेते हैं। मरने के बाद भी ये लोग मातम नहीं मनाते, बल्कि ये खुश होते हैं कि इस जन्म से पीछा छूट गया।

जैसा कि नाम से ही स्‍पष्‍ट होता है ‘किं+नर’ यानि की योनि और आकृति पूर्णत: मनुष्य की नहीं मानी जाती। शास्‍त्रों में बताया गया है कि किन्नरों की उत्पति के बारे में दो प्रवाद हैं-एक तो यह कि वे ब्रह्मा की छाया अथवा उनके पैर के अँगूठे से उत्पन्न हुए और दूसरा यह कि अरिष्टा और कश्पय उनके आदिजनक थे। हिमालय का पवित्र शिखर कैलाश किन्नरों का प्रधान निवासस्थान था, जहाँ वे शंकर की सेवा किया करते थे।

किन्‍नरों को लेकर कई तरह की बातें सामने आती रहती है लेकिन आज हम आपको किन्‍नरों से जुड़ी कुछ और बातें बताने जा रहे हैं जो शायद आपको पता नहीं होगा। जी हां आजतक तो आपने किन्‍नरों के रिति रिवाजों के बारे में आपने कई सारी कथाएं सुनी होंगी। लेकिन आज जो जानकारी हम आपको देने जा रहे हैं वो शायद ही आप जानते होंगे। आज हम आपको उन दो जादुई शब्दों के बारे में बताने जा रहे हैं जो अगर आप किन्नर को पैसे देते समय बोल देते हैं तो आपकी किस्‍मत चमक जाएगी।

जी हां साथ ही ऐसा करने से आपको धन लाभ होगा और आपकी धन से जुडी सभी परेशानिया खत्म हो जाएँगी दोस्तों जब भी किसी किन्नर को पैसे दिए जाते हैं तो वो आपको बहुत सी दुआएं देता हैं। जब भी किन्नर आपके घर, ऑफिस या दूकान में आकर पैसा लेने के बाद जाने लगे तो उसे कहीए ‘और आइएगा’। जी हां ये हैं वो दो शब्‍द देखने को तो ये साधारण समझ आते हैं लेकिन ये बेहद ही चमत्‍कारी होते हैं।

Loading...